Followers

Wednesday, August 17, 2011

कब आओगी बहना मेरी

कब आओगी बहना मेरी
इंतज़ार करे है भैया तेरा
आप नहीं हैं यहाँ तो
भर गया है यहाँ सूनापन
कब होगा ये दूर
है ये कहना मुश्किल
मगर है ये तय कि
इक दिन

होगा दूर सूनापन, खुशियाँ लौटेंगी
कलियाँ खिलेंगी, फूल मुस्कुराएंगे
बस इंतज़ार है अब उस दिन का
जब आप मुझे भैया कह कर पुकारेंगी
और 'अजनबी' के क़रीब होंगी !!

- मुहम्मद शाहिद मंसूरी "अजनबी"
16th, Aug., 1999, '56'


2 comments:

  1. बहुत ही अच्छी रचना....

    ReplyDelete
  2. इसे निश्चित ही सकारात्मक लेखन कहा जाएगा।
    हम हिंदी ब्लॉगिंग गाइड लिख रहे हैं, यह बात आपके संज्ञान में है ही।
    क्या आप इस विषय में तकनीकी जानकारी देता हुआ कोई लेख हिंदी ब्लॉगर्स के लिए लिखना पसंद फ़रमाएंगे ?
    अब तक हमारी गाइड के 26 लेख पूरे हो चुके हैं। देखिए
    डिज़ायनर ब्लॉगिंग के ज़रिये अपने ब्लॉग को सुपर हिट बनाईये Hindi Blogging Guide (26)
    यह एक यादगार लेख है जिसे भुलाना आसान नहीं है।

    ReplyDelete